Description of Domestic Tourism/घरेलू पर्यटन का वर्णन :The Benefit of After Covid-19

Description of Domestic Tourism/घरेलू पर्यटन का वर्णन: The Benefit of After Covid-19

इस पोस्ट में पर्यटन कितने प्रकार का है ,घरेलु पर्यटन और अंतरराष्ट्रीय पर्यटन क्या है ,कितने प्रकार का है, इसकी महत्वता, लाभ ,उदाहरण और भारत की लोकप्रिय घरेलू पर्यटन की जगह के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है इसके साथ ही कोरोना वायरस के बाद घरेलू पर्यटन से होने वाले लाभ को भी वर्णित किया गया है।

Type Of Tourism/पर्यटन का प्रकार:

मुख्यतः टूरिस्म 2 प्रकार के होते है:

  1. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन (International Tourism)
  2. घरेलू पर्यटन (Domestic Tourism)

अंतरराष्ट्रीय पर्यटन (International Tourism) : वह पर्यटन जिसमे यात्री अपने देश की अंतरराष्ट्रीय सीमा को पार कर के अपने निवास स्थान  से 2 या 2 से अधिक दिनों के लिए भ्रमण करने लिए जाता है ,अंतरराष्ट्रीय पर्यटन कहलाता है।

उदहारण(Example) : जैसे भारतीय यात्री भ्रमण के लिए भारत से दूर न्यूयार्क के लिए जाते है।

घरेलू पर्यटन की परिभाषा/Domestic Tourism definition :

UNWTO के अनुसार , कोई व्यक्ति दुवरा अपने निवास स्थान से कम से कम एक दिन या उससे अधिक दिन के लिए किया गया भ्रमण (किन्तु अपने देश में ही) , घरेलू पर्यटन कहलाता है।

गिलियन गेल दुवरा ने अपनी पुस्तक में  BTEC राष्ट्रीय यात्रा और पर्यटन छात्रों के लिए घरेलू पर्यटन पर  लिखते हुये कहा की अपने देश में ही पर्यटन के उद्देश्य से भ्रमण कर रहे है।.

अर्जुन कुमार भाटिया के अनुसार  घरेलू पर्यटन में लोग अपने देश में के आंतरिक क्षेत्रों की  यात्रा करते है अगर वह देश से बाहर जायेगे तो यह अंतरराष्ट्रीय पर्यटन की श्रेणी में आएगा।

ब्रिटिश ट्रैवल एजेंट थॉमस कुक की एक शोध के अनुसार डोमेस्टिक टूरिस्म में होने वाली लागत अधिक प्रभावी नहीं होती है। अर्थात  अंतरराष्ट्रीय पर्यटन से घरेलू पर्यटन की लागत कम ही होती है। इसलिए इसको बढ़ावा देना चाहिए।

भारत में पिछले वर्षो में घरेलू पर्यटन में बहुत कमी आयी  है। इसपे जोर देने के लिए भारत सरकार भी कदम उठा रही है।

परन्तु 2020 के बाद घरेलू पर्यटन में उछाल आएगा। क्योकि लगभग सभी देशो में कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है। इसलिए सभी अपने ही देश में यात्रा करेंगे। जिससे अर्थव्यवस्था में व्रद्धि हों। इसके साथ ही कोरोना से सरकार आपको सुरक्षा प्रदान कर सके।

Difference between Domestic Tourism and International Tourism/घरेलू पर्यटन और अंतरराष्ट्रीय पर्यटन में अन्तर:

International Tourism(अंतरराष्ट्रीय पर्यटन) Domestic Tourism (घरेलू पर्यटन)
1. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन से दूसरे देश की अर्थव्यवस्था को फायदा होता है। 1. घरेलू पर्यटन से उनके अपने देश की अर्थव्यवस्था को फायदा होगा।
2. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन अधिक महॅगा तथा खर्चीला होता है। 2. घरेलू पर्यटन में तुलनात्मक अत्यधिक सस्ता तथा कम  खर्चीला होता है।
3. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन से दूसरे देश की संस्कृति सभ्यता रहन-सहन का पता चलता है। 3. घरेलू पर्यटन से उनके अपने देश की संस्कृति सभ्यता रहन-सहन का पता चलता है।
4. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन में वहाँ के वर्तमान हालात ज्ञात कर पाना मुश्किल होता है। 4. घरेलू पर्यटन में ऐसी कोई मुश्किल नहीं होती है।
5. अंतरराष्ट्रीय पर्यटन से दूसरे देश को रोजगार प्रदान होता है 5. घरेलू पर्यटन से उनके अपने देश में रोजगार प्रदान होता है।

 

Forms of turism/ पर्यटन के रूप:

Regional Turism (क्षेत्रीय  पर्यटन) = वह  पर्यटन जो उसी क्षेत्र में होता है ।जेसे की उदारणतः जब आगंतुक यात्री अपने निवास स्थान  वाले क्षेत्र में ही भ्रमण करे तो इससे Regional Turism (क्षेत्रीय  पर्यटन) कहते है।

Inbound Turism (भीतर पर्यटन) = जब कोई आगन्तु  जिसका भी निवास वही हो पर बाहर बाहर से आपके निवास स्थान पर आये तो इसे Inbound Turism (भीतर पर्यटन) कहते है।

Outbound Turism(बाहरी पर्यटन)= जब कोई अपने निवास से बाहर किसी दूसरे के निवास स्थान पर जाये तो इससे Outbound Turism(बाहरी पर्यटन) कहते है।

Internal Turism(आंतरिक पर्यटन) = जब कोई यात्री (visitor) अपने देश में के ही किसी राज्य या जिले में  भ्रमण करे।अर्थात वह अपने  निवास स्थान से दूर परन्तुँ अपने देश के अंदर ही  भ्रमण करे तो इससे Internal Turism(आंतरिक पर्यटन) कहते है।  यह उस देश की अर्थव्यवस्था के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे होने वाले फायदे की बात नीचे  की गयी है।

Type of Domestic Tourism And Example /घरेलू पर्यटन के प्रकार और उदाहरण :

Local Domestic Tourism(स्थानीय घरेलू पर्यटन)  : वह पर्यटन जिसमें यात्री अपने निवास स्थान के नजदीकी किसी पर्यटन स्थल पर जाता है। इसे Local Domestic Tourism(स्थानीय घरेलू पर्यटन) कहते है। उदाहरण:जैसे कोई व्यक्ति अपने निवास स्थान के सबसे निकट के पर्यटन स्थल पर जाता है

Regional Domestic Tourism(क्षेत्रीय घरेलू पर्यटन): वह पर्यटन जिसमें यात्री एक जिले से दूसरे जिले के किसी पर्यटन स्थल पर जाता है। इसे Regional Domestic Tourism(क्षेत्रीय घरेलू पर्यटन) कहते है। उदाहरण:जैसे कोई व्यक्ति अपने जिले बीकानेर से जोधपुर के पर्यटन स्थल पर जाता है।

National level Domestic Tourism( राष्ट्रीय स्तरीय घरेलू पर्यटन): वहाँ पर्यटन जिसमें यात्री एक राज्य से दूसरे राज्य के किसी पर्यटन स्थल पर जाता है। इसे National level Domestic Tourism( राष्ट्रीय स्तरीय घरेलू पर्यटन)कहते है। उदाहरण: जैसे कोई व्यक्ति अपने राज्य केरल  से मध्य प्रदेश के पर्यटन स्थल को रवाना हो तो इससे National level Domestic Tourism( राष्ट्रीय स्तरीय घरेलू पर्यटन) कहेंगे।

Importance of Domestic Tourism/घरेलू पर्यटन की महत्वता:

  • इससे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार आता है। क्योकि देश के पैसे उसी देश में उपयोग होते है और कर(tax) भी उसी देश को मिलता है।
  • देश में नया रोजगार पैदा होता है। जिससे  देश की गरीबी भी दूर होती है।
  • विश्व यात्रा और पर्यटन परिषद (डब्ल्यूटीटीसी) की एक  रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में वैश्विक स्तर पर कुल यात्रा का 73% घरेलू पर्यटन में खर्च में होता है। इस आधार पर हम यह कह सकते है की डोमेस्टिक टूरिस्म की महत्वता अधिक है। इसी कारण सरकार इस क्षेत्र में अधिक ध्यान दे रही है।
  •  सभी देशो की कुछ लोकप्रिय जगह जरूर होती है। जो की घरेलू पर्यटन  के अन्तरगर्त आती है।

 

जेसे की भारत की लोकप्रिय घरेलू पर्यटन की जगह(Popular domestic tourist destinations in India):

  • उत्तर प्रदेश
  • मध्य प्रदेश
  •  आंध्र प्रदेश
  •  पंजाब
  •  जम्भू कश्मीर
  •  राजस्थान
  • तमिलनाडु
  •  कर्नाटक
  •  असम
  •  केरला
Advantages of Domestic Tourism After Corona /कोरोना के बाद घरेलू पर्यटन  के लाभ:

घरेलू पर्यटन के अधिक लाभ की वजह से ही यह  कोरोना जैसी महामारी के समाप्त होने के तुरंत बाद  पुनः निर्माण में मुख्य भूमिका निभाएगा। इसकी अधिक जानकारी के लिए Covid-19 पढ़े :-

  1.  इस महामारी के बाद लोग अन्तराष्ट्रीय यात्रा के लिए आत्मविश्वास की भावना कम हो जाएगी। वे घरेलू पर्यटन को अधिक सुरक्षित की भावना से देखेंगे। वे होटल मालिक़ जो उच्च मानक आराम, उच्च स्वच्छ मानक मॉडल और सुरक्षा का भरोसा दिलाएंगे, वे लोग अधिक आय प्राप्त करेंगे।
  2. इस महामारी के बाद सरकार पहले आंतरिक यात्रा प्रतिबन्ध हटा देगा। उसके बाद बाहरी प्रतिबन्ध हटेगा। जिससे की  घरेलू पर्यटन की महत्वता अधिक बढ़ जाएगी। सभी  लॉकडाउन से परेशान लोग  घरेलू पर्यटन के लिए प्रोत्सहित होंगे। और ताजा और उत्साहित प्रकृति का अनुभव लेने के लिए देश के भीतर की जगह पर जाने को प्रेरित होंगे।
  3. भारत में अन्य देशो की तुलना में कोरोनावायरस के कम केस दर्ज किये है। जिसका फायदा अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के भारत की ओर रुझान से मिलेगा।और भारत में पर्यटनअधिक बढ़ेगा।
  4. भारत ने अब तक दुनिया के सबसे बड़े लॉकडाउन को लागू करके महामारी से सुरक्षा का भरोसा दिलाया है। जिसके कारण लोग घरेलू पर्यटन पर अधिक भरोसा करेंगे।
  5. अब सभी यात्री भीड़ से हटने की कोशिश करेंगे। तथा उन दुर्गम जगह पर जाना पसन्द करेंगे जहाँ भीड़ न हो। इससे वे जगह भी शीर्ष पर आयेगी जहाँ यात्रियो का ध्यान कभी नहीं गया।
  6. घरेलू पर्यटन से अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का  विश्वास भारत पर बढ़ेगा। जिससे भारत की अर्थव्यवस्था  में अधिक सुधार आयेगा।
  7. सभी पसंदीदा अंतरराष्ट्रीय जगह पर कोरोना के प्रभाव होने से घरेलू पर्यटन को अधिक लाभ होगा।
  8. घरेलू पर्यटन के प्रारम्भ से देश सुरक्षा ने नवीन मानक स्थापित होंगे।  जिससे अंतरराष्ट्रीय पर्यटन के प्रबंधन में मदद मिलेंगी।

इसके बारे में Dr Hayley Stainton जो की Tourism Teacher है ने भी अच्छा लिखा है।
आप उनकी भी पोस्ट जरूर पढ़े :-Domestic tourism explained: What why and where.

 

1 Comment
10 Top Tips for Traveling with Friends - Suhana Safarnama July 19, 2020
| |

[…] यह भी पढ़े – Description Of Domestic Tourism/घरेलू पर्यटन का वर्णन: The Benef… […]